COMPUTER, ,

रैम क्‍या होता है What Is Ram ?

रैम क्‍या होता है What Is Ram

रैम क्‍या होता है  What Is Ram ?

हम लोग जब मोबाइल या लैपटॉप के बारे में बात करते है तो रैम के बारे मे जरूर पूछते है। लेकिन रैम होती क्‍या है? – “ज्‍यादा रैम मतलब ज्‍यादा रफ्तार”. हॉं आप सही है पर रैम का मतलब क्‍या है ?

रैम को Random-Access-मेमोरी  कहते है, ये किसी भी कंप्यूटर  या device का सबसे जरूरी हिस्‍सा है। बहुत से लोगो को पता है कि रैम रफ्तार बढ़ाने के काम आती है लेकिन उन्‍हे ज्‍यादा नही पता। रैम इतनी जरूरी चीज है कि मैने सोचा चलो इसके बारे मे एक लेख ही लिख दिया जाये। मुझे लगता है कि ये एक बहुत ही रोचक विषय है जिसको सीखने के बाद आपको कंप्यूटर  की working की ज्‍यादा जानकारी हो जायेगी।

कंप्यूटर  मे 2 तरह की मेमोरी  होती है।

पहली तरह की मेमोरी  वो होती है जो कि डाटा को सुरक्षित कर के रख सकती है जब वो working मे या Power से जुडी नही है, जैसे की हमारी Pen Drive, Internal मेमोरी  या Hard Disk. इसे हम Physical Storage भी कहते है।

दूसरी तरह की मेमोरी  होती है जिसमें से Power हटाते ही पूरा डाटा खतम हो जाता है, इस मेमोरी  को रैम कहते है।

हमारे मोबाइल/लैपटॉप मे एक और part होता है processor आपने सुना होगा – Dual Core, Quad Core. Processor दिमाग की तरह होता है, ये ही पूरे system को नियत्रिंत करता है कि कौन सी चीज कहॉं से उठाकर कहॉं रखनी है। लेकिन processor सिर्फ उन चीजो को चला सकता है जो रैम मे होती है।

सामान्‍यत: रैम कम होती है और Internal मेमोरी  उससे कई गुना ज्‍यादा। जब आप कोई App चलाते है तो वो आपकी App मोबाइल की Internal मेमोरी  से रैम मे transfer होती है और फिर रैम मे जाकर processor द्वारा चलायी जाती है।

इसे भी पढ़े – Android Phone पर Auto Updates कैसे बन्‍द करे ?

 

मैं आपको रैम और Hard Disk कैसे काम करता है उसको 2 boxes लेकर समझाता हूँ। एक मोबाइल के उदाहरण लेते है।

 

1. अभी मोबाइल switch OFF है। तो रैम मे कोई power नही जा रही है इसलिये वो खाली पड़ी है। और सभी apps का डाटा internal मेमोरी  मे है।

 

2. जैसे ही आपने मोबाइल को ON किया तो आपका OS यानि के Kitkat या Lolipop load हो गया, ये इसलिये load हुआ क्‍योकि पूरा system इसपर ही चलता है। और साथ ही जरूरी apps जैसे की Phone Calling भी load हो गया। यही कारण है कि जब आप अपने मोबाइल पर कोई भी App नही चला रहे होते और आपकी रैम फिर भी प्रयोग हो रही होती है।

 

3. अब जब आप अपने मोबाइल पर कोई और App खोलते है तो वो भी रैम मे चली जाती है। 4-5 Apps चलाने के बाद रैम लगभग Full हो चुकी है।

 

4. रैम के फुल होने के बाद अगर आप कोई और App चलाते है, तो वो उस App की जगह बनाने के लिये किसी और App को वापस Internal मेमोरी मे भेज देती है।

 

5. आप देख सकते है कि रैम कम होने की वजह से एक App को चलाने के लिये हमें दूसरी App को वापस भेजना पड़ा, इसे आगे पीछे भेजने से हमारे मोबाइल की speed slow होती है। और जितनी बड़ी रैम होगी उतनी ही ज्‍यादा Apps का हमारा मोबाइल एक साथ बिना अटके/रूके चला सकता है।

 

ठीक है ये कुछ basic बात है रैम के बारे मे जो मुझे लगता है कि आजकल हर एक को पता होनी चाहिये।

मुझे आशा है कि आपको ये post पंसद आयी होगी।

पढ़ने के लिये धन्‍यवाद,

इसे भी पढ़े –

क्या ब्लॉगिंग से पैसे कमाए जा सकते हैं? Can We Earn Money From Blog

लैपटॉप खरीदने से पहले 9 चीजें का रखें खयाल Buy Laptop

Money Earning Apps In India [September 2019]

 

Author Since: Aug 30, 2019

My Name Is Pappu Bandod

Related Post